दिल्ली के रैगर समाज की एकता की वजह से हुआ शंखनाद- देर आये दुरुस्त आये … अब मतदान दिल्ली में होगा

0
402

दिल्ली, समाजहित एक्सप्रेस (रघुबीर सिंह गाड़ेगाँवलिया) । एक चिर-परिचित कहावत है कि अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ता l व्यक्ति कितना ही शक्तिशाली क्यों ना हो, वह अकेले प्रशासन से, व्यवस्था से लड़ नहीं सकता और ना ही प्रशासन या प्रशासनिक व्यक्ति उसकी शक्ति पर विचार करता है l यही कारन है कि सामाजिक एकता की आवश्यकता पर हमेशा से ही बल दिया जाता रहा है l एकता की ताकत इतनी बड़ी होती है मिनटों में तख्ता पलट हो जाता है l इतिहास गवाह है बड़ी बड़ी शक्तियां, सामाजिक एकता के आगे धुल चाटने पर मजबूर हुई है l

समाजहित एक्सप्रेस पर प्रसारित होने वाले हिंदी समाचार के निशुल्क अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें l

अखिल भारतीय रैगर महासभा के चुनाव अधिकारी केवल जयपुर में ही चुनाव हेतु मतदान कराने पर अड़े हुए थे, लेकिन दिल्ली के रैगर समाज ने अपनी एकता से दिल्ली में मतदान कराने की आवाज़ बुलुंद की तो चुनाव अधिकारी ने दिल्ली में मतदान करने हेतु आदेश पारित किया l दिल्ली के लोगो ने कहा खैर देर आये दुरुस्त आये l यह बहुत पहले हो जाना चाहिए था लेकिन चुनाव अधिकारी ने अपने विवेक से इसे टालने का प्रयास किया ।

काफी दिनों से चली आ रही राजनीतिक अनिश्चितता को समाप्त करते हुए चुनाव अधिकारी ने 03 फरवरी को दिल्ली में मतदान कराये जाने की व्यवस्था का आर्डर पास किया l अखिल भारतीय रैगर महासभा के चुनाव अधिकारी को देर से ही सही लेकिन अब उन्हें समझ आ गया है कि दिल्ली के रैगर एकजुट है और कुछ भी कर सकते है l इसे जनभावना का सम्मान भी कहा जाएगा तथा सामाजिक एकता के आन्दोलन का सम्मान भी |

अखिल भारतीय रैगर महासभा के चुनाव-2019 में निम्न में से किसे राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनना चाहते है ?

View Results

Loading ... Loading ...

LEAVE A REPLY