अंबिका शिव शक्ति मित्र मंडल की मानव हित के लिए परमार्थ सेवा की अनुकरणीय पहल

0
466

दिल्ली, समाजहित एक्सप्रेस (रघुबीर सिंह गाड़ेगाँवलिया) । अहमदाबाद l मनुष्य को सदैव स्वार्थ-सिद्धि ही नहीं, थोड़ा-बहुत परमार्थ भी करना चाहिए । इस बात को चरित्रार्थ करने के लिए दशरथ भट्ट ने अहमदाबाद में अंबिका शिव शक्ति मित्र मंडल संस्था गठन कर समाज सेवा के क्षेत्रों में मानव हित के लिए विकास का कार्य पिछले कई साल से लगातार कर रहे है । खासतौर पर गरीब बच्चों को शिक्षा हेतु निशुल्क किताबे व स्टेशनरी देना, इसके अलावा असहाय, निशक्त, बंधुआ, मजदूर आदि को सामाजिक सहायता उपलब्ध कराना l धार्मिक क्षेत्र में लंगर की व्यवस्था करना l

समाजहित एक्सप्रेस पर प्रसारित होने वाले हिंदी समाचार के निशुल्क अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें l

आज के दौर में सरकार की मदद लेकर तो कई संगठन समाज कार्य कर रहे है, किन्तु कुछ संस्था ऐसी भी है|जो केवल परमार्थ का कार्य बिना किसी स्वार्थ के कर रही है। उसी में एक है अंबिका शिव शक्ति मित्र मंडल अहमदाबाद जिसका ध्येय ही केवल मानव सेवा है । समिति इस समय जो कार्य कर रही है वह अनुकर्णीय है, समिति जो परमार्थ का कार्य कर रही है वह प्रसंशनीय है ।

अजय भट्ट ने समाजहित एक्सप्रेस को बताया कि अंबिका शिव शक्ति मित्र मंडल के संयोजक दशरथ भट्ट के नेतृत्व में हर साल समाज के 800 गरीब बच्चो को शिक्षा के लिए निशुल्क किताबे व स्टेशनरी का वितरण किया जाता है l

अहमदाबाद शहर में स्थित सिविल हॉस्पिटल में भर्ती मरीजों एवं उनके परिजनों को प्रत्येक रविवार को लगभग 500 लोगो की निशुल्क भोजन वितरण की व्यवस्था की जाती है l

समिति हर साल भाद्रपद मास की पूर्णिमा को अम्बाजी के पैदल तीर्थयात्रियों के लिए 5 दिन निशुल्क भोजन (भंडारे) की व्यवस्था करना l

हर साल भाद्रपद मास में लोकदेवता बाबा रामदेव के दर्शनों को पोकरण जाने वाले पैदल तीर्थयात्रियों के लिए भी निशुल्क भोजन (भंडारे) की व्यवस्था समिति द्वारा की जाती है l

संसार में नेकदिल इंसान और दूसरों के लिए जीने का जज्बा लिए जिंदगी का सफर तय करने वालों की कमी नहीं । एक तरफ हमारे जवान अपना सब कुछ भूलकर सरहद की चौकसी करते हुए जान गवां देते हैं, वहीं कुछ ऐसी भी हस्तियां हैं जो समाज के भीतर रहकर दूसरों के लिए सहारा बनती है । यह वह जमात है जिसके मन में खुद के लिए कुछ पाने की अभिलाषा के बजाए दूसरों के लिए कुछ कर गुजरने की है । तभी तो समाज के विभिन्न वर्गों में से कोई गरीब बच्चों की तालीम का खर्च उठाता है तो कोई गरीब परिवार की लड़कियों के हाथ पीले करने में दिल खोलकर खर्च कर रहा है । ऐसे भी समाज में जागरूक लोगों की कमी नहीं है, जो सड़क हादसे के घायलों को हरेक काम छोड़कर उनकी जान बचाने के लिए आगे खड़े हैं ।

अखिल भारतीय रैगर महासभा के चुनाव-2019 में निम्न में से किसे राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनना चाहते है ?

View Results

Loading ... Loading ...

LEAVE A REPLY