चुरू में मजदूर राम कुमार रैगर बिल्डिंग निर्माण कार्य के दौरान अड्डा टूटने से गिरा, रीढ़ की हड्‌डी टूटी

0
1393

घटना के बाद बिस्तर पर ही जिन्दगी गुजारने वाले रामकुमार रेगर के परिवार पर आर्थिक संकट

दिल्ली,समाजहित एक्सप्रेस(रघुबीर सिंह गाड़ेगाँवलिया) l चुरू के अग्रसेन नगर क्षेत्र में बन रही बिल्डिंग की दूसरी मंजिल पर पलस्तर के कार्य के दौरान अड्डा टूट जाने से मजदूर राम कुमार रैगर गिरकर बुरी तरह घायल हो गया । उसे मजदूरों ने उसे तुरंत राजकीय डी.बी.अस्पताल में भर्ती कराया जहाँ डॉक्टर्स ने बताया उसकी रीढ़ की हड्‌डी टूट गई है, उसकी गंभीर हालत को देख डॉक्टर्स ने जयपुर रेफ़र कर दिया । घायल मजदूर के परिजनों ने चुरू सदर थाने में शिकायत दर्ज कराई है ।

समाजहित एक्सप्रेस पर प्रसारित होने वाले हिंदी समाचार के निशुल्क अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें l

घटना चुरू के अग्रसेन नगर क्षेत्र की है जहाँ पर तोफिक खान फौजी की बिल्डिंग का निर्माण कार्य ठेकेदार हीरालाल पुत्र भींवाराम नायक द्वारा कराया जा रहा था । दिनांक 03 जून 2019 को दिन में लगभग 12.30 बजे बिल्डिंग के बाहर की तरफ दूसरी मंजिल पर पलस्तर का कार्य कर रहा मजदुर राम कुमार रैगर निवासी वार्ड न०39 अड्डा टूट जाने से गिरकर बुरी तरह घायल हो गया । मजदूरों ने उसे राजकीय डी.बी.अस्पताल पहुँचाया लेकिन डॉक्टर्स ने उसकी गंभीर हालत को देख जयपुर रेफ़र कर दिया । राम कुमार रैगर राजस्थान भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल का पंजीकृत मजदुर है, जिसका कार्ड क्रमांक स० 79436 है l  ठेकेदार द्वारा दुर्घटना की जानकारी श्रम विभाग को भी नहीं दी गई ।

मजदुर राम कुमार रैगर के भाई लाल चन्द रैगर (गहनोलिया) ने बताया कि बिल्डिंग मालिक तोफिक खान फौजी और ठेकेदार हीरालाल ने हमे टेलीफोन पर कहा कि आप सीकर के किसी भी निजी अस्पताल में भर्ती करा दो ईलाज का समस्त खर्चा मैं दे दूंगा l इस आश्वासन पर घायल के परिजनों ने मामले की शिकायत पुलिस में नहीं की थी । लेकिन जब ईलाज के लिए पैसे मांगे तो इलाज का खर्च देने से मना कर दिया l तब परिजनों ने 05 जून 2019 को मामले की शिकायत चुरू सदर थाने में की ।

05 जून 2019 को पीड़ित मजदुर राम कुमार रैगर की पत्नी श्रीमती किरण देवी ने चुरू सदर थाने में पुलिस को शिकायत की, जिस पर पुलिस ने जांच के बाद भारतीय दंड संहिता की धारा 336 व 337 (दूसरे की जान या व्यक्तिगत सुरक्षा को खतरे में डालना) के तहत मामला दर्ज किया l

मजदुर राम कुमार रैगर (गहनोलिया) परिवार में एकलौता कमाने वाला है और परिवार में 65 वर्षीय माँ, पत्नी व तीन बच्चे है l घटना के बाद बिस्तर पर ही जिन्दगी गुजारने वाले रामकुमार रेगर के परिवार में कोई कमाने वाला नहीं है और ऊपर से ईलाज में दवाइयां का खर्च होने से आर्थिक संकट खड़ा हो गया है इस परिवार के पास खाने के लिए राशन भी नहीं है । आस पड़ोस के लोग थोडा-बहुत राशन इस परिवार को उपलब्ध करवा रहे हैं । इस परिवार को समाज और सरकार के सहयोग की सख्त जरूरत है ।

यदि आप इस परिवार के पास पहुंच नहीं सकते तो पीड़ित राम कुमार रैगर (गहनोलिया) की पत्नी किरण देवी (Kiran devi) के सिंडिकेट बैंक के सीधे खाता नम्बर 83602010033291पर भी सहयोग पहुंचा सकते हैं । जिसका IFSC code SYNB0008360 है l

सर्वोपरि राष्ट्रहित,शिक्षा व मानवता की सेवा के क्षेत्र में अग्रसर मुस्कान संस्थान के जोशीले कार्यकर्ता धर्मवीर जाखड़, दिनेश सैनी व विरेन्द्र सिंह खोटिया की टीम ने समाजहित एक्सप्रेस को इस खबर से अवगत कराया l

LEAVE A REPLY