स्वामी आत्माराम लक्ष्य जन्मोत्सव समारोह समिति दिल्ली (पंजी०) द्वारा 28 जुलाई को पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी

0
657

कलयुग में भी मानवता कहीं न कहीं जिन्दा है, अक्षम व्यक्ति की सहायता को उठे मानवता के हाथ

दिल्ली,समाजहित एक्सप्रेस (रघुबीर सिंह गाड़ेगांवलिया) l जीवन भर हम समाज से जो पाते हैं,उसका छोटा सा हिस्सा भी समाज के जरूरतमंद एवं वंचित लोगों को लौटा सके तो इसे अपना सौभाग्य मानना चाहिए। आपका दिया दान किसी की जिंदगी, किसी की खुशियों लौटा सकता है l समाज का सम्पन्न वर्ग समाज के पिछड़े व पीड़ित लोगों को आगे बढ़ाने के लिए सहयोग करे, तो समाज प्रगति की राह पर आगे जा सकता है।

समाजहित एक्सप्रेस न्यूज़ पोर्टल ने 08 जुलाई को शीर्षक “चुरू में मजदूर राम कुमार रैगर बिल्डिंग निर्माण के दौरान अड्डा टूटने से गिरा, रीढ़ की हड्‌डी टूटी” प्रकाशित की थी, जिसमे आर्थिक संकट से जूझ रहे पीड़ित परिवार की आर्थिक मदद की अपील की गई थी l जिसके परिणाम स्वरुप कई लोगो के हाथ पीड़ित परिवार की सहायता के लिए बढे l

चुरू में अपने परिवार का एकमात्र सहारा राम कुमार रैगर पिछले महीने जून में काम करते हुए ऊपर से गिर जाने से रीढ़ की हड्डी टूट जाने से चिकित्सा के खर्च के चलते आमदनी नहीं होने से परिवार आर्थिक तंगी से जूझ रहा हैं । हादसे में घायल राम कुमार रैगर का इलाज सीकर के अस्पताल में ट्रामा सेंटर में चल रहा है।

पूर्व महापौर योगेन्द्र चान्दोलिया से प्राप्त जानकारी के मुताबिक चुरू में रैगर समाज के राम कुमार रैगर (गहनोलिया) की रीढ़ की हड्डी टूटने पर पीड़ित परिवार के लोगों को सहायता उपलब्ध कराने के लिए स्वामी आत्माराम लक्ष्य जन्मोत्सव समारोह समिति दिल्ली (पंजी०) ने धन संग्रह हेतु अपील की l जिसके तहत समाज के 63 लोगों से दान प्राप्त किया गया। प्राप्त की गयी राशि रविवार 28 जुलाई को समिति के पदाधिकारी चुरू पहुँच कर पीड़ित परिवार को सहायता राशि दी जाएगी।


घनश्याम रैगर की पत्नी को सहायता राशि का चेक देते हुए

उपरोक्त घटना की तरह लगभग तीन साल पहले सोशल मीडिया पर खबर आई थी राजस्थान के झाडली गांव में घनश्याम रैगर भट्टे पर मजदूरी करते हुए घायल हो गया जिससे घनश्याम रैगर की भी रीढ की हड्डी टूट गई थी, हमारी संस्था के सामने जैसे यह विषय आया स्वामी आत्मा राम लक्ष्य् जन्मोत्सव समारोह समिति ने तय किया कि झाडली जाकर घनश्याम रैगर की मदद की जाए समिति के सदस्यों ने सहयोग दिया ओर अन्य लोगों के सहयोग से 101000/- एक लाख एक हजार रूपये का सहयोग गांव झाङली जाकर किया था ।

LEAVE A REPLY