समर्थ अकरनिया के हत्यारों की गिरफ़्तारी की मांग को लेकर परिजनों ने प्रदर्शन कर रोष प्रकट किया

0
197

दिल्ली,समाजहित एक्सप्रेस (रघुबीर सिंह गाड़ेगांवलिया) l रैगर समाज के कारोबारी ज्ञान चंद अकरणिया निवासी प्रेम नगर किरारी दिल्ली के 8 वर्षीय बेटे समर्थ का मंगलवार 23 जुलाई को रात्रि को अज्ञात लोगो द्वारा अपहृत कर लिया गया और गुरुवार को नाले से समर्थ का शव मिला । शुक्रवार को परिजन अंतिम संस्कार कर रहे थे कि किसी ने मृतक के पिता को फोन कर फिरौती की मांग की l पीड़ित परिवार की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर जांच कर रही है । क्षेत्रीय जनता और रैगर समाज ने अपराधियों को पकड़ने की पुलिस से मांग करते हुए प्रदर्शन कर रोष प्रकट कर रहे है l

समर्थ अकरनिया

प्राप्त जानकारी के मुताबिक दिल्ली में एक बेहद ही खौफनाक और दिल दहला देने वाली घटना 23 जुलाई की रात को सामने आई है । प्रेम नगर किरारी निवासी व्यवसायी ज्ञान चंद अकरणिया का 8 वर्षीय बेटा समर्थ अपने घर से बाहर निकला, काफी देर तक घर नहीं आने पर उसे आस-पडौस में ढूंढा लेकिन कहीं नहीं मिला उसके बाद परिजनों ने अमन विहार थाने में समर्थ के अपहरण की एफआईआर दर्ज करा दी । साथ ही स्थानीय स्तर पर परिजनो ने बच्चे की तलाश जारी रखी ।

गुरुवार रात को प्रताप विहार स्थित एक नाले से एक बच्चे का शव मिला, पुलिस के पास अपहरण की रिपोर्ट दर्ज थी इसलिए पुलिस ने परिजनों से शव की पहचान कराई l परिजनों ने समर्थ के रूप में शव की शिनाख्त की, जिसके आधार पर पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर शुक्रवार को परिजनों को सौंप दिया ।

शुक्रवार को परिजन रीति रिवाज के अनुसार बच्चे की चिता जला रहे थे तभी ज्ञान चंद के मोबाइल पर किसी ने फोन किया । फोन पर कहा गया कि नाले में मिली लाश समर्थ की नहीं है। लाश को तो बस समर्थ के कपड़े पहनाए गए हैं । अगर परिवार के लोग समर्थ को जिन्दा देखना चाहते हैं तो 25 लाख रुपये दें । परिजनों से फोन कॉल के बारे में पुलिस को सूचना दी । लेकिन पुलिस को आज तक मुजरिमो का कोई पता नही चला ।

जब ये दुखद समाचार रैगर पंचायत के संज्ञान मे आया तो दिल्ली प्रान्तीय रैगर पंचायत के पदाधिकारी व मादीपुर पंचायत के पूर्व प्रधान खजान सिंह बारोलिया पीड़ित अकरणिया परिवार के घर पहुंच कर इस दुखद घड़ी मे अकरणिया परिवार को सांत्वना दी व पूरी घटना की जानकारी ली । पंचायत के पदाधिकारियों ने ज्ञान चंद अकरणिया को साथ लेकर अमन विहार थाने पहुंच कर SHO से मिलकर अपना रोष जताया व अपराधियों की तुरन्त गिरफ्तारी की मांग की । थानाध्यक्ष  ने पंचायत के पदाधिकारियों को जल्द ही मुजरिमो को पकडने का आश्वासन दिया ।

पुलिस की नाक के नीचे समर्थ की हत्या होती है और हत्यारे गिरफ्तार नहीं हो रहे l  क्षेत्र की पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है l समर्थ के हत्यारों को पुलिस द्वारा अभी तक गिरफ्तार नहीं किए जाने के चलते रोष में आए मृतक के परिजनों ने क्षेत्रवासियों सहित काफी संख्या में लोगो ने सड़क जाम कर प्रदर्शन करते हुए पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की l प्रदर्शनकारियों ने सरकार और पुलिस प्रशासन से मुजरिमो को जल्द से गिरफ्तार कर उन्हें सख्त से सख्त सजा दिलवाने की मांग कर रहे थे l

LEAVE A REPLY