होनहार युवा विकास पीपलीवाल ने आईईएस की परीक्षा में 75वीं रैंक हासिल कर, बढ़ाया परिवार व रैगर समाज का मान

0
474

दिल्ली,समाजहित एक्सप्रेस (रघुबीर सिंह गाड़ेगांवलिया) l प्रतिभा किसी प्रश्रय का मोहताज नहीं होती है l  वह तो प्रतिकूल परिस्थितियों में भी सामान्य धारा के विरुद्ध बहते हुये पत्थर का सीना तोड़कर प्रकट होती है और अपने कदमों की आहट से समाज को सन्देश देती है कि मजबूत इरादें हों तो कुछ भी संभव है l

समाजहित एक्सप्रेस पर प्रसारित होने वाले हिंदी समाचार के निशुल्क अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें l

ऐसा ही कुछ किया है सीकर जिले के गाँव रानोली के एक गुदड़ी के लाल विकास पीपलीवाल पुत्र हरफूल पीपलीवाल ने, यूपीएससी द्वारा आयोजित भारतीय इंजीनियरिंग सेवा (आईईएस) की परीक्षा के घोषित परिणामो में ऑल इंडिया बेसिस पर शानदार 75वीं रैंक हासिल कर यह साबित कर दिया है कि अगर दिल से किसी भी क्षेत्र में कड़ी मेहनत एवं लगन से लक्ष्य को पाने का प्रयास किया जाए तो यकीनन लक्ष्य को पाया जा सकता है ।

होनहार विकास पीपलीवाल की सफलता पर बुदवार 30 अक्टूबर को दोपहर 03 बजे रानोली के लोगो ने रानोली बस स्टैंड से सूर्या कॉलोनी तक विकास के सम्मान में डीजे व ढ़ोल-नगाड़ों के साथ रैली निकाली गई l  इस मौके पर ग्रामीणों में प्रमुख रानोली सरपंच विनोद यादव, रुडाराम पीपलीवाल, बाबूलाल,महावीर वर्मा, इंजी.नीलम बिलोनिया साइंटिफिक ऑफिसर (NPCIL),ओम प्रकाश,प्रमोद,बनवारी लाल आदि ने विकास के साफा बांधा व फूलो की माला पहनाकर जोरदार भव्य स्वागत किया l  इस अवसर पर सम्मान रैली में बड़ी संख्या में ग्रामीण पुरुष व महिलाएं मौजूद थी l

विकास पीपलीवाल ने बताया कि 2016 में भी आईईएस की परीक्षा क्वालीफाई की थी लेकिन साक्षात्कार में कुछ कम अंको की कमी के कारण वंचित रह गया था l 2017 में विद्युत विभाग में जेईएन के पद पर चयन हो गया l इस वर्ष ऑल इंडिया बेसिस पर 75वीं रैंक हासिल कर सफलता प्राप्त हुई l पिता और गुरुजनों के आशीर्वाद तथा मित्रों के सहयोग से उसने दूसरे प्रयास में आईईएस में स्थान प्राप्त किया है ।

सपूत वही कहलाता है जो देश व समाज के लिए कुछ करता है और जो परिवार को आगे बढ़ाता है l विकास पीपलीवाल ने अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति के साथ सच्ची लगन और कठिन परिश्रम से आईईएस की परीक्षा पास कर अपने परिवार और समाज को मुख्यधारा मे लाने का काम किया है l उनकी इस कामयाबी पर परिजनों व विभिन्न सामाजिक संगठनों से जुड़े लोगों के द्वारा बधाई देने वालो का सिलसिला जारी है । सभी परिजनो व शुभेच्छुओं ने बधाई देते हुए उसके उज्जवल भविष्य की कामना की है ।

LEAVE A REPLY